नई पड़ोसन की नई चुदाई


Click to Download this video!
0
loading...

प्रेषक : प्रेम …

हैल्लो दोस्तों, ये मेरी फर्स्ट स्टोरी है, मेरा नाम प्रेम है और में हॉट पर्सनॅलिटी वाला 22 साल 5 फुट 10 इंच का मस्त बॉय हूँ। मुझे लड़कियों से दोस्ती करने का शौक है। अब में आपको ज़्यादा बोर नहीं करता हूँ और अपनी मस्त स्टोरी आप सभी मस्त दोस्तों को बताता हूँ। ये बात मेरे ही होम टाउन पटना की है, जब में अपना आई.टी कोर्स कंप्लीट करके अपने घर (पटना) आया हुआ था। तो जब में शाम को अपनी छत पर गया तो मैंने देखा कि एक 17-18 साल की लड़की मेरी सामने वाली छत पर खड़ी थी। मैंने उसे वहाँ पहली बार देखा था, उसने स्कर्ट और टॉप पहनी हुई थी, उसका टॉप टाईट होने के कारण उसके बूब्स और छोटे-छोटे निपल्स उभरकर दिख रहे थे। अब मेरी नज़र बार-बार उसके बूब्स पर जा रही थी, वो दिखने में काफ़ी सुंदर लग रही थी, उसकी हाईट 5 फुट 2 इंच होगी और उसके बाल काफ़ी लंबे थे और उसका बदन काफ़ी भरापूरा था, उसके गाल एकदम गुलाबी और बदन पूरा मिल्की था।

अब उसे देखकर मेरे मन में एक अजीब सी मस्ती चढ़ रही थी, तो उसी समय मेरी माँ छत पर आई, तो मैंने अपनी नज़र दूसरी तरफ कर ली। फिर मैंने मेरी माँ से पूछा कि सामने वाले घर में कोई नया पड़ोसी आया है क्या? तो माँ ने बताया कि हाँ एक नया परिवार राँची से आया है, उसके घर में पति, पत्नी और एक बेटी है और वो लोग कभी-कभी अपने घर पर भी आते है, उसकी बेटी कंप्यूटर में काफ़ी इंट्रेस्टेड है और जब भी वो हमारे घर आती है, तो तुम्हारा कंप्यूटर स्टार्ट करके कुछ ना कुछ करती रहती है और पूछती थी कि ये कंप्यूटर किसका है? तो तब मैंने उसे बताया कि ये कंप्यूटर मेरे बेटे प्रेम का है और वो दिल्ली में कंप्यूटर कोर्स करने गया है।

फिर दूसरे ही दिन वो लड़की मेरे घर पर आई और वो सीधे मेरे रूम में आ गयी, लेकिन जैसे ही उसने मुझे देखा तो वो एकदम से रुक गयी और शर्मा गयी, क्योंकि उस समय में अपने रूम में कपड़े चेंज कर रहा था। अब में भी उसको अपने रूम में देखकर अजीब सा महसूस कर रहा था। फिर मैंने उससे पूछा कि तुम्हारा परिचय? तो वो अपनी मीठी सी आवाज़ में बोली कि जी मेरा नाम रिया है, में आपके सामने वाले घर में रहती हूँ। फिर मैंने उससे बैठने को कहा, उस समय मेरी माँ सो रही थी और घर में कोई नहीं था। फिर मैंने उसको अपना परिचय दिया और पूछा कि तुम मेरे रूम में क्यों आई हो? तो वो बोली कि जी मुझे कंप्यूटर में इंटरेस्ट है तो मैंने सोचा कि आपके कंप्यूटर पर कुछ सीख लूँ, इसके लिए मैंने आपकी मम्मी से भी इजाजत ले रखी है और मैंने समझा कि आप अभी दिल्ली में ही है इसलिए में आपके कमरे में आ गयी, अच्छा अब में जाती हूँ। तो मैंने बोला कि क्यों कंप्यूटर नहीं सीखना है?

तो वो बोली कि जी सीखना तो चाहती हूँ, लेकिन शायद अब आपको अच्छा ना लगे। तो मैंने बोला कि नहीं रिया ऐसी कोई बात नहीं है तुम मेरा कंप्यूटर यूज़ कर सकती हो और चाहो तो में तुम्हारी इसमें कुछ मदद भी कर सकता हूँ। तो वो मेरी बात सुनकर खुश हो गयी और बोली कि आप सच में मुझे कंप्यूटर सिखाएँगे, तो मैंने कहा कि क्यों नहीं? अब मुझे भी तो उससे बात और उसे करीब से देखने का एक बहाना चाहिए था। तो उसने झट से मेरे कंप्यूटर को ऑन कर लिया और पूछा कि मुझे सबसे पहले कंप्यूटर सीखने के लिए क्या करना चाहिए? तो मैंने बोला कि सबसे पहले तुमको माउस और की-बोर्ड चलाना सीखना होगा। अब उससे माउस नहीं चल पा रहा था, तो मैंने उसके हाथ पर अपना हाथ रखकर माउस को मूव करना सीखाया, उसके हाथ बहुत मुलायम थे। अब में उसके पीछे खड़ा होकर उसे माउस चलाना सीखा रहा था, तो कभी-कभी उसकी जुल्फे मेरे चेहरे पर उड़कर आ जाती थी। अब मुझे काफ़ी अच्छा लग रहा था, अब मेरा मन कर रहा था कि उसको अपनी बाँहों में ले लूँ और जी भरकर किस करूँ।

उस समय उसने स्कर्ट और हाफ टॉप पहनी हुई थी। अब मुझे उसकी गोरी-गोरी जांघे साफ-साफ़ दिख रही थी और उसके टॉप से उसकी गोल-गोल चूचीयाँ भी साफ़-साफ़ दिख रही थी। अब में बहुत मस्त हो रहा था, फिर जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने धीरे से उसके बगल में बैठकर उसकी जाँघ पर अपना हाथ रख दिया, तो मुझे ऐसा लगा जैसे मेरा हाथ किसी मखमल पर है और फिसलता जा रहा है, क्योंकि उसकी जाँघे बहुत ही चिकनी थी और फिर मैंने धीरे-धीरे उसकी जाँघो को सहलाना शुरू किया। अब शायद वो कंप्यूटर पर व्यस्त थी इसलिए उसको पता नहीं चल रहा था। फिर उसी समय मेरी माँ रूम में आ गयी, तो मैंने जल्दी से अपना हाथ हटा लिया। फिर माँ बोली कि प्रेम रिया को कंप्यूटर सीखा देना, वो कंप्यूटर में इंट्रेस्टेड है, में मार्केट जा रही हूँ 2-3 घटे के बाद आ जाउंगी, तुम गेट बंद कर लेना।

अब मुझे तो एक अच्छा मौका मिल गया था, अब मेरे घर में सिर्फ़ हम दोनों ही थे। फिर उसी समय रिया रूम से बाहर आ गयी और बोली कि में भी जा रही हूँ, बाद में आ जाउंगी। तो मैंने बोला कि अरे रूको रिया, क्या कंप्यूटर नहीं सीखोगी? चलो तुम्हें कंप्यूटर में लेटेस्ट चीज सिखाता हूँ। तो वो बोली कि लेटेस्ट चीज, ये लेटेस्ट चीज कंप्यूटर क्या होती है? फिर मैंने अपनी एक पर्सनल फाईल खोली तो उसमें कुछ हॉट सेक्सी फोटो थे। तो वो उसे देखकर शर्मा गयी और बोली कि ये आप मुझे क्या दिखा रहे है? तो मैंने बोला कि अरे रिया यही तो लेटेस्ट चीज है, तुमको अच्छा नहीं लगा क्या? तो वो चुप रही। फिर मैंने धीरे से अपने एक हाथ से उसके गालो को छुआ और बोला कि तुम्हारे गाल बहुत ही चिकने है रिया और फिर उसके होंठो को धीरे-धीरे सहलाया। अब मुझे बड़ा ही मजा आ रहा था क्योंकि उसके होंठ बहुत मुलायम थे। फिर मैंने उससे पूछा कि क्या यह लेटेस्ट चीज तुमको अच्छी नहीं लग रही है रिया? तो रिया धीरे से बोली कि अच्छी तो लग रही है, लेकिन डर भी लग रहा है।

loading...

फिर मैंने बोला कि अरे रिया इसमें डरने की क्या बात है? तुम तो कंप्यूटर पर लेटेस्ट चीज सीख रही हो, तुम मेरी बाँहों में आ जाओं फिर तुमको डर नहीं लगेगा, तो वो मेरी बाँहों में आ गयी। अब उसके दोनों गोल-गोल बूब्स मेरे सीने से चिपक रहे थे। फिर मैंने थोड़ा और ज़ोर से उसे अपनी बाँहों में दबाया, तो अब उसके दोनों बूब्स मेरे सीने में दबे जा रहे थे, अब उसे भी अच्छा लग रहा था। फिर में उसके होंठो को अपनी जीभ से चाटने लगा, अब उसकी साँसे तेज हो रही थी, तो मुझे लगा कि अब उसे बेड पर ले जाने का सही मौका है। फिर में उसको अपनी गोद में उठाकर बेड पर ले गया और सीधा लेटा दिया, तो उसने अपनी दोनों टांगो को मोड़ लिया, जिससे मुझे उसकी स्कर्ट के नीचे भी दिखने लगा, उसने नीचे रेड पेंटी पहनी हुई थी। अब उसकी पेंटी देखकर मेरा 6 इंच का लंड अब 9 इंच का हो गया था और मेरे खून की रफ़्तार तेज हो गयी थी।

अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था इसलिए मैंने बिना कुछ सोचे उसके दोनों बूब्स को अपने दोनों हाथों में लेकर दबाने लगा, उसके ब्बुब्स ज़्यादा बड़े तो नहीं थे फिर भी बहुत ही सुंदर और गोल गोल थे। अब उसके दोनों बूब्स मेरे दोनों हाथों में पूरी तरह से आ रहे थे और में अपने दोनों हाथों से ज़ोर-ज़ोर से दबाता चला जा रहा था। अब रिया लंबी-लंबी सांसे ले रही थी और अहह म्‍म्म्ममममममम उूउउउउ की आवाज़ उसके मुँह से आ रही थी, प्रेम धीरे दबाओं, मुझे दर्द हो रहा है। तो मैंने बोला कि रिया इस दर्द में भी तुम्हें मजा आएगा और फिर मैंने उसकी टॉप खोल दी, तो उसने अंदर कुछ नहीं पहना हुआ था। अब उसके दोनों बूब्स लाल हो गये थे और उसके दो छोटे-छोटे निपल टाईट हो गये थे, उसके गोरे-गोरे बदन पर लाल हो चुके बूब्स बहुत ही सेक्सी दिख रहे थे, उसके होंठ और गाल एकदम गुलाबी थे। फिर मैंने अपनी पूरी जीभ से उसके पूरे फेस को चाटा, तो उसका पूरा चेहरा गीला हो गया, फिर मैंने उसके होंठो को अपने होंठो से चूसना चालू किया।

loading...

अब वो भी मेरा साथ देने लगी थी और अपनी जीभ मेरी जीभ से मिलाकर चाटने लगी थी। अब में उसे अच्छी तरह से चूस रहा था और उसके बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से दबा रहा था। अब उसके दोनों बूब्स और खड़े हो गये थे। फिर में उसके निप्पल को अपने दातों से दबाने लगा, तो वो सिहरने लगी प्लीज ऐसा नहीं करो, बहुत दर्द हो रहा है आआआआआअम्म्म्मममममममममह और चिल्लाने लगी। लेकिन जब घर में कोई नहीं था इसलिए उसकी आवाज़ दर्द की चिंता किए बगैर और ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाने लगी और मुझे धकेलकर हटा दिया और बोली कि प्रेम मेरी चूची है कोई रसगुल्ला नहीं है कि तुम इसको खा ही जाओं, बहुत दर्द करता है। तो में बोला कि अरे रिया तुम्हारे बूब्स है ही ऐसे कि दिल करता है खा ही जाऊं। अब उसको भी सेक्स का खुमार चढ़ चुका था तो उसने मेरे कपड़े खोल डाले और अपना स्कर्ट भी खोल दिया।

अब वो मेरे लंड को देखकर हैरान चकित थी प्रेम तेरा लंड तो बहुत बड़ा है यार। तो मैंने बोला कि अरे नहीं रिया सिर्फ़ देखने में ये बड़ा लगता है, लेकिन जब ये तेरी चूत में डालूँगा, तो तुमको छोटा ही लगेगा। तो वो बोली कि सच में प्रेम, तो मैंने बोला कि हाँ रिया, तो वो बोली कि मेरी चूत तो बहुत ही छोटी है प्रेम, उसमें ये तुम्हारा हथोड़ा जैसा लंड कैसे जाएगा? तो मैंने बोला कि रिया जान जो चीज जितनी छोटी होती है, वो उतना ही मोटा खाती है। फिर मैंने उसकी पिंक पेंटी भी खोल डाली, श मेरी इस कहानी को पढ़ने वाले दोस्तों उसकी चूत के बारे में क्या बताऊँ? सच में उसकी चूत बहुत छोटी थी और फूली हुई थी, मैंने ऐसी प्यारी चूत आज तक नहीं देखी थी। अब उसकी चूत को देखकर मेरे लंड और मुँह दोनों में पानी भर गया था और फिर में कुत्तों की तरह उसकी चूत को चाटने लगा। उसकी चूत में अजीब तरह की मनमोहक खुशबू थी और उतनी ही टेस्टी थी, जिसने मुझे कुत्तों की तरह चाटने पर विवश कर दिया था।

अब उसको भी अपनी चूत चटवाने में बड़ा मजा आ रहा था और अब वो अपने चूतड़ को उठा-उठाकर अपनी चूत को चटवा रही थी और आहहहहहह हाईईईईईई उहहहहहह की आवाजे अपने मुँह से निकाल रही थी। फिर करीब 10 मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद उसने मेरा लंड अपने हाथों में लिया और उसे सहलाने लगी और फिर अपने मुँह में डालकर लॉलीपोप की तरह चूसने लगी। अब में भी अपनी दो उँगलियाँ उसकी चूत में डालकर अंदर बाहर करने लगा था, अब उसकी चूत गीली हो गयी थी। फिर वो 15 मिनट तक मेरे लंड को चूसने के बाद बोली कि प्रेम अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है प्लीज, अब मुझे चोदो। अब में भी रिया को चोदने के लिए बिल्कुल तैयार था और फिर मैंने भी बिना देर किए उसकी दोनों टांगो को फैला दिया और अपना 9 इंच का लंड का सूपड़ा उसकी चूत पर रखकर एक धक्का मारा। तो रिया चिल्ला उठी प्रेम प्लीज छोड़ दो, बहुत दर्द हो रहा है, म्‍म्म्ममम आआआम्‍म्म। शायद उसकी चूत की चुदाई पहली बार हो रही थी इसलिए उसे ज्याद दर्द हो रहा था, लेकिन अब में कहाँ रुकने वाला था?

loading...

फिर मैंने एक और ज़ोर से धक्का मारा तो मेरा सुपाड़ा उसकी चूत में चला गया, लेकिन रिया दर्द से कहराने लगी और देखा तो उसकी चूत से ब्लडिंग हो रही थी, तो मैंने उसकी चूत में से अपने लंड को बाहर निकाल लिया। अब रिया की आँखों में आँसू आ गये थे, लेकिन मैंने उसका हौसला बढ़ाया और कहा कि पहली चुदाई में खून तो निकलता ही है जितना ज़्यादा खून निकलेगा उतना ही तुमको मजा आएगा। फिर मैंने उसकी पेंटी से उसकी चूत से निकल रहे खून को साफ किया और गुलाबजल लाकर उसकी चूत के चारों तरफ लगाकर अपने लंड पर भी लगा लिया, अब रिया का कुछ दर्द कम हो गया था। फिर मैंने उसके पूरे जिस्म को अपनी जीभ से चाटा, तो अब उसको फिर से अच्छा लगने लगा था और वो भी मेरा साथ देने लगी।

फिर इस बार मैंने रिया की दोनों टांगो को ऊपर उठाकर उसकी चूत पर अपना सूपड़ा रखकर एक जोरदार धक्का दिया, तो इस बार एक ही बार में मेरा पूरा सुपाड़ा उसकी चूत में घुस गया। तो रिया धीरे से चिल्लाई अहह माँ ऊऊओह, तो मैंने फिर से एक और धक्का दिया तो इस बार मेरा पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया। तो रिया बोली कि प्रेम मुझे तुम्हारे लंड ने बहुत दर्द दिया है अब मुझे इसका मजा दो, म्‍म्म्ममममममम आआआआअहह ओह, तो फिर में भी ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत में अपना लंड अंदर बाहर करने लगा। अब रिया भी अपनी गांड उठा-उठाकर चुदवाने लगी थी, अब उसका जोश सातवें आसमान पर था, प्रेम प्लीज और ज़ोर से चोदो और ज़ोर से। अब उसकी चूत में से पानी निकलने लगा था और वो मुझे ज़ोर से जकड़ने लगी थी, तो में भी उसकी चूत में अपना लंड मस्ती से अंदर बाहर कर रहा था। अब रिया झड़ चुकी थी और में भी झड़ने वाला था तो मैंने अपने धक्के और तेज कर दिए और ऐसा लगा कि आज उसकी छोटी चूत को फाड़ ही दूँ। फिर थोड़ी देर के बाद मेरा पूरा वीर्य उसकी चूत में भर गया, फिर हम दोनों 10 मिनट तक वैसे ही एक दूसरे से चिपके रहे। फिर रिया बोली कि प्रेम तुम्हारी लेटेस्ट चीज को सीखने में तो बहुत ही मजा आया, अब में रोज तुमसे कुछ लेटेस्ट चीज सीखूंगी। अब उसकी चूत मेरी मस्त चुदाई से पूरी तरह से फूल गयी थी, अब उसको चलने में भी दिक्कत हो रही थी। अब वो मेरी लेटेस्ट चुदाई से बहुत खुश थी और फिर रिया अपने कपड़े पहनकर अपने घर चली गयी।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


bua ki ladkihindi sx kahanisex hindi sitorywww sex story in hindi comwww sex kahaniyaall hindi sexy storymami ki chodihindu sex storihindi sexy story in hindi fonthindi sex khaniyahindi saxy story mp3 downloadsex stories in audio in hindihindi sexy story adiosexy khaneya hindisex stori in hindi fontindian sex stories in hindi fontssexy story in hindi langaugehinfi sexy storyindian hindi sex story comsex story in hidihindhi sex storihinde sexi storehendi sexy storysex kahani hindi msexi hindi storyssexey storeyhinde sexy kahanisexy story hindi mhindi sexy storyhindhi sexy kahanichudai story audio in hindisexsi stori in hindihendi sexy khaniyasex hinde khaneyasexy storiysex story hindi allhinde sexy kahanisex story of hindi languagesexy hindi font storiesfree sexy story hindisexy stoies in hindisex story in hindi downloadsexi hindi kahani comsex hinde khaneyahindi sexy storisesexy story new in hindisex story hindi allhindi sex stories to readsexi storeyindian sex stories in hindi fonthendi sexy storeyhindi sexy story hindi sexy storykamuka storyindian sexy stories hindihindi audio sex kahaniasex sexy kahanihindi katha sexankita ko chodahinde sexe storesex story hindi comsexy stori in hindi fontbhabhi ne doodh pilaya storyhindi sexy khanisexstorys in hindisexe store hindehindi sex storysexy hindi story readhindi sax storesexy hindy storieshimdi sexy storysexy stoerisexy stoies hindiwww hindi sex story cohindi sexstoreishindi sex wwwnew sexy kahani hindi melatest new hindi sexy storyhindi sexy khanihindi storey sexyhindi sex stories read onlinesext stories in hindikamukta audio sexsex khaniya hindihindi font sex kahanihindi front sex storyhindi sex wwwindian sexy story in hindihindi saxy kahaninew sexy kahani hindi me