चालाक बीवी ने काम बनवाया 1


Click to Download this video!
0
loading...

प्रेषक : रघु
हाय दोस्तों में आपके लिये यह स्टोरी लेकर आया हूँ आपको अच्छी लगे तो मुझे मैल जरुर करे तो अब स्टोरी पर आता हूँ मेरे पेरेंट्स की एक सड़क हादसे मे मौत के बाद घर मे हम तीन मेंबर ही रह गये – मे सुधीर उम्र 23 साल, 6 महीने पहले शादी करके आई 21 साल की मेरी बीवी सुषमा और मेरी इकलौती बहन काजल, उस हादसे को भूल कर हम तीनो प्यार से रह रहे थे। रोज की तरह एक दिन मेरी प्यारी कमसिन बहन काजल ने स्कूल से आते ही बस्ता सोफे पर फेंका, टाई,बेल्ट और शूज उतारे और हाफ शर्ट के उपरी बटन खोलकर बेड पर लेट गयी स्कर्ट के नीचे से शर्ट निकाल कर नाभि के उपर तक चढ़ा लिया पंखा फुल स्पीड पर था जिसके कारण स्कर्ट गोरी जाँघो से हट गयी थी चड्डी का उभार साफ दिख रहा था मे उसके नुकिले चुचक,गहरी नाभि और गड्राई जांघों के बीच का फुला हुआ हिस्सा खिड़की से एकटक देख रहा था अचानक मेरी पत्नी सुषमा ने मेरी चोरी पकड़ते हुए चिमटी काटी और खींच कर एक साइड मे लेजा कर बोली “कच्चे कच्चे नींबु देख रहे हो माल लगभग तैयार है.

काजल अब जवान हो चुकी है कभी उसके जिस्म को नज़दीक से सूँघा है? उसकी जांघों के बीच से मर्दों को मधहोश करने वाली मादक गंध आती है अगर यकीन ना हो तो खुद कभी सोती हुई को सूंघ लेना और जवानी तो दीवानी होती है अपनी बहन के चूतड़ का उभार तो देखना कैसे मस्त और कसी हुई गांड है उसकी और उसकी चूची तो अब नींबू से बढ़ कर क़िसी अनार जैसी लगती है मुझे यकीन है की कॉलेज के लड़के उस पर लाइन मारते होंगे जवान लड़की की टाँगें कब खुल जाये पता नहीं चलता और मेरी प्यारी ननद पर तो बला का हुस्न चढ़ा हुआ है मेरे अच्छे बलमा मुझे ही चोदते रहोगे या फिर अपनी बहन के लिए भी लड़के की, यानी की लंड की तलाश भी करोगे कहीं क़िसी अंजान ने चोद दिया अपनी काजल को तो मुँह दिखाने के काबिल नहीं रहोगे जवानी और हुस्न को जल्दी से संभाल लेना चाहिए समझे? यकीन ना हो तो अभी इसकी जांघों के बीच सूंघ कर देख लो कहकर मेरा हाथ पकड़ कर काजल के बेड की तरफ ले जाने लगी मेने धीमी आवाज़ मे पर सख्ती से कहा पागल हो क्या, काजल मेरी बहन है, क्या सोचेगी?

सुषमा नही मानी मेरा सर काजल की जांघों मे झुका कर बोली की अब इसकी आँख लग गयी हैं मैं उपरी दिल से नाटक कर रहा था की काजल से ऐसा कुछ नही करना चाहता लेकिन सुषमा के ज़रा से हाथ के दबाओ से मेरा नाक काजल की पेंटी से ढकी उभरी चूत को लगभग छुने लगा मैने एक ज़ोर की सांस अंदर की तरफ खींची ओह गॉड! सचमुच अधपकी जवान चूत की ऐसी मादक गंध थी की मेरे सारे बदन मे करंट सा दौड़ गया और मेरा लंड खड़ा हो गया मेरी पत्नी सुषमा ने मुझे बाहर की तरफ खींचते हुए कहा की चलो अब कहीं काजल जाग ना जाए कमरे से बाहर निकलते ही सुषमा ने मेरी पेंट को तंबू बनाये हुए लंड को पकड़ कर भींचते हुए कहा की देखो लंड बहन की चूत सूंघते ही कितनी जल्दी अकड़ गया है अभी थोड़ी देर पहले तो मुझको घोड़ी बना कर चोद कर हटा था.

मेरी पत्नी मुझे बेडरूम में ले गयी और पूरी नंगी हो कर मेरे सीने पर लेट गयी मेरा लंड कुछ ढीला पड़ चुका था और सुषमा की बड़ी बड़ी चूची मेरे सीने में धँसी हुई थी और मेरे हाथ उसके गोरे गोरे मांसल चूतड़ पर सैर कर रहे थे मेरा ध्यान अपनी छोटी बहन काजल की तरफ फिर चला गया मेरे अंदर का भाई ये मानने को तैयार ना था की मेरी बहन चुदाई की उम्र पर पहुँच चुकी है लेकिन मेरे अंदर का मर्द साफ देख रहा था की मेरी बहन पर जवानी एक तूफान की तरह चढ़ चुकी थी काजल अब 18 साल की हो चुकी थी मेरी बहन अधिकतर स्कर्ट्स पहनती थी जिसमें से उसकी खूबसूरत जांघे झलक पड़ती थी गोरे रंग वाली मेरी प्यारी बहना के चूतड़ मांसल थे और जब वो चलती तो उसकी गांड ठुमक ठुमक करती मेरी आँखों से छुपी ना रहती और मेरा हाथ उसकी गांड को सहलाने को मचल उठता काजल का पेट सपाट था और चूची उठी हुई है.

जब वो बेडमिंटन खेलने जाती है तो उसके वाइट ब्लाउज से उसकी चूची दिखाई देती है और मेरा लंड खड़ा हो जाता है बाकी लोगों का क्या होता होगा मुझे नहीं पता काजल के बाल लड़कों की तरह कटे हुए हैं और उसके मोटे होंठ हमेशा रस से भरे हुए दिखते हैं इन्ही ख्यालो मे मेरा लंड फिर खड़ा हो गया मेरी बीवी ने लंड को मूठी मे लेकर फिर बोली “मेरी ननद रानी फिर याद आ रही है क्या? अब तो आपका काम बनवाना ही पड़ेगा लेकिन फिलहाल तो मुझे ही काजल समझ कर चोदो मेरे राजा मेरे भैया” बीवी के मुँह से भैया सुन कर मेने सुषमा को दबोच लिया और उठा कर टाँगे कंधों पर रख कर एक ही धक्के मे लंड जड़ तक पेल दिया हाय भैया आहिस्ता करो सुषमा ने सिसकी के साथ मेरे कान मे कहा ना जाने क्यों.

इससे मेरा जोश और बढ़ गया और मे उसे तेज तेज उचक उचक कर चोदने लगा ताज्जुब की बात थी की मुझे ऐसा लग रहा था की मे काजल को ही चोद रहा हूँ सुषमा भी नीचे से गांड उछलाते हुए बोल रही थी हाय भैया फाड़ दो और ज़ोर से भैया में गई झड़ने के थोड़ी देर बाद सुषमा ने आँखे खोली और बोली की एक बात सच बताऊँ तुम बुरा तो नही मानोगे? मेने कहा की तुम्हारी किसी बात का कभी बुरा माना है फिर उसने सनसनी खेज राज उगलते हुए कहा मे आपको भैया नही कह रही थी बल्कि मे कल्पना कर रही थी की मेरे खुद के सगे भैया तरुण ही मुझे चोद रहे हैं मेने कहा की कल्पना करने तक तो कोई बुराई नही फिर वो बोली की आप मुझे काजल समझ कर चोदो और मे आपको भैया कह के चुदवाउंगी फिर देखना चुदाई का असली मज़ा.

फिर वो बोली आजा मेरे राजा भैया चोद ले अपनी बहन को मेने भी कहा की हाय मेरी काजल रानी दे दे मुझे और उसे दबोच लिया सचमुच इस बार मेने दुगुने जोश से उसकी चुदाई की और ऐसा जोरदार चरम आनंद पहले कभी नही आया अगले दिन रविवार था नहा धो कर सब नाश्ता कर चुके थे सुषमा मेरे साथ ही बैठी थी अचानक रूम की खिड़की के पर्दे को हटा कर मेरी बीवी ने मुझे उधर देखने का इशारा किया मेने झाँक कर देखा तो आँखे वहीं जम गयी मेरी बहन उधर पड़े बेड के नीचे कोई चीज़ उठाने के लिए घुटनो के बल झुकी हुई थी उसकी सिर बेड के नीचे लगभग फर्श पर टिका था जबकि उसके चौड़े भारी नितंभ उपर उठे हुये थे उसका स्कर्ट कमर तक उलट गया था जिससे उसके माखन जैसे चूतडो पर से मेरी नज़र नहीं हट रही थी काली चड्डी उसकी जवानी को संभाल नही पा रही थी जिससे उसकी गदराई गोरी योनि चड्डी के दोनो तरफ से चाँद की तरह झाँक रही थी.
अपनी बहन के जिस्म को देखते ही मेरा लंड फिर से तन गया और मेरी बीवी के पेट पर चुभने लगा अभी से लंड खड़ा होने लगा अपनी बहन की जवानी को देख कर के सुधीर राजा? मेरी बीवी ने मेरे खड़े लंड का कारण ठीक तरह से अंदाज़ा लगाते हुए मुझे ताना मारा और फिर मुस्कुरा कर बोली की जा चाट ले रस भरी जवानी को नही तो कोई और खा जायेगा इस गुलकंद को मे नही चाहती की हमारे घर का ये नायाब ख़ज़ाना कोई पराया लूटे कह कर मेरे लंड को अपने होंठों से चूमने लगी मेरी पत्नी असल में ही एक चालू औरत है जो मेरे मन के अंदर का हाल जान ही लेती है.
थोड़ी देर मे नहा धोकर ताजे फूल की तरह महकती हुई काजल भी हमारे कमरे मे जैसे ही दाखिल हुई मेरी बीवी के मुँह से लंड प्लॉप की आवाज़ के साथ बाहर निकल गया काजल की नज़रें कुछ सेकेंड्स के लिए खड़े लंड पर टिक सी गयी फिर सॉरी बोल कर वापस जाने लगी तो मेने बीवी को डाटा की डोर तो लॉक कर लिया होता मेरी बीवी ने लंड को ढकते हुए काजल को सॉरी बोला और कहने लगी आ जाओ वो मेने ढक दिया है काजल शरमाती हुई अंदर आ गई और कहने लगी की भाभी आज तो सारा दिन बोर हो जायेगे क्या करें? सुषमा बोली की अलमारी से ताश निकाल ले काजल ताश लेकर हमारे साथ बेड पर बैठ गयी उसने हल्का सा मेकअप किया हुआ था उसके काले बालों और चाँद से मुखड़े से भीनी-भीनी खुशबू मेरे शरीर मे समा गयी मेरी बीवी ने कहा की बेट लगा कर तीन पत्ती खेलते हैं ताकि खेल मे रूचि बनी रहे काजल बोली की बेट मे मेरे पास देने के लिए तो पैसे नही हैं.

सुषमा बोली की ननद रानी जो तुम दे सकती हो वही चीज़ माँगी जायेगी जो हारेगा उसको बाकी दोनो का हुकुम मानना पड़ेगा सुषमा ने कार्ड्स बाट दिये पहली ग़मे काजल जीत गयी काजल ने तुरन्त सुषमा को हुकुम दिया “भाभी डांस करके दिखाओ” मेरी बीवी ने दो-चार ठुमके लगाये और बैठ गयी दूसरी बाज़ी सुषमा जीत गयी तो तुरन्त उसने मुझे ऑर्डर दिया की काजल की स्कर्ट और टॉप उतारो मे हिचकिचाया और काजल भी शर्म से सिमटी तो सुषमा ने कहा ”ऑर्डर इज ऑर्डर कोई रियायत नही” काजल मेरी तरफ सरकते हुए बोली की कोई बात नही भैया उतार दो मेरा भी नंबर आयेगा अब काजल ब्रा और चड्डी मे थी अगली गेम मे जीत गया मेने काजल को हुकुम दिया की सुषमा के बदन से चड्डी के अलावा सारे कपड़े उतार दो अगले गेम मे सुषमा जीती तो उसने बदले की भावना से मुझे काजल का चुम्मा लेने को कहा मेने काजल की और देखा तो उसका चेहरा शर्म से लाल हो गया और नज़रें झुक गयी.

मेरी बीवी ने काजल को भी हुकुम दिया की चुम्मा दो काजल ने अपना सर मेरे कंधे पर टीका दिया मेने काजल के सुन्दर मुखड़े को उपर उठा कर गाल का चुम्मा लिया और जोश मे दाँत गड़ा दिए काजल गाल छुड़ाने की कोशिश करती हुई बोली “दाँत नही भैया, अब छोड़ो मुझे” तो सुषमा बोल उठी “आज कुछ मीठा हो जाये होठों का चुंबन लो काजल लाल हुए गीले गाल को पोंछने लगी जिस पर दाँतों के निशान साफ दिख रहे थे बीवी का हुकुम मानते हुए मेने काजल का सलोना मुखड़ा दोनो हाथों मे लेकर रसीले होंठो को चूसने लगा तो मादक सिसकी के साथ काजल की सांस फूल गई साँसे उखड़ गयी.

मेरा भी लंड खड़ा हो गया सुषमा की मोजूदगी का अहसास होते ही काजल ने मुझे धकेलते हुए कहा अब छोड़ भी दो भैया हमारे अलग होते ही सुषमा ने कहा ननद रानी कार्ड बाँटो तुम्हारी बारी है काजल ने कार्ड बाटे इस बार मे जीत गया मेने काजल को थोड़ी देर बाहर जाने को कहा उसके बाहर जाते ही मेने तने हुए लंड पर से लूँगी हटा दी और सुषमा को लंड चूसने का ऑर्डर दे दिया मेरी बीवी एक मंजी हुई एक्सपर्ट की तरह लंड को चाटने और चूसने लगी इतने मे मुझे एक परछाई का अहसास हुआ मेने खिड़की से देखा, ओह गॉड! काजल खिड़की से लंड चूसने को इतना मग्न हो कर देख रही थी की उसको ये भी पता नही चला की मेने उसे देख लिया है.

सुषमा लंड को मुँह से बाहर निकाल कर बोली काजल को बाहर क्यों भेज दिया वो भी लंड चूसना सीख लेती शादी के बाद काम आता मेने उसका कान खींच कर कहा तुम नही सुधरोगी मेने लंड को ढक कर काजल को आवाज़ दी काजल आ गई मेने कार्ड्स बाटे सुषमा जीत गयी तो उसने काजल को ऑर्डर दिया चलो अपने भैया से लिपट कर किस करो काजल शरमाई और बोली की मेरी उधार लिख लो खेलते-खेलते काजल की तरफ मेरे 21 चुंबन उधार हो गये सुषमा बोली ननद रानी अगले रविवार तक रोज 3 बार किस करोगी तो तेरे भैया का कर्ज चुकता होगा रात को डिनर के बाद सुषमा और काजल किचन मे बर्तन सेट कर रही थी उनका हँसी मज़ाक सुन कर मेने खिड़की से कान लगा दिये सुषमा कह रही थी हाँ तो ननद रानी भैया का किस कैसा लगा मज़ा आया की नही? काजल बोली आप बताओ ना मेरे भैया के लंड का स्वाद कैसा लगा? मे खिड़की से सब देख रही थी.
सुषमा ने कहा की मुझे तो लंड चूसने मे बड़ा मज़ा आता है कहो तो तुम्हे भी स्वाद चखवा दूँ? काजल शर्मा कर बोली भाभी आहिस्ता बोलो भैया सुनेगे तो क्या सोचेंगे सुषमा ने काजल से कहा की अगर तुम्हारा जी करता हो तो मे तुम्हे लंड का स्वाद चखा सकती हूँ मगर किसके लंड का? तुम्हारे भैया के लंड का और किसका मे किसी बाहर के लड़के से परिवार की इज़्ज़त को धब्बा नही लगाने दूँगी मेरे पास एक ऐसा आइडिया है की तुम्हारे भैया को भी इस बात का पता नही चलेगा की तुमने उनका लंड चूसा है बस तुम ये बतलाओ की लंड चूसने को दिल करता है या नही काजल सर झुका कर बोली भाभी दिल तो तभी से कर रहा है जब मेने खिड़की से आपको भैया का लंड चूसते देखा था मगर क्या आपको बुरा नही लगेगा और ऐसा कैसे हो सकता है की मे भैया का लंड चूसू और उनको पता भी ना चले.

loading...

मुझे बुरा तब लगेगा जब तुम किसी बाहर के लड़के का चूसोगी और आइडिया ये है की सोने से पहले हम तुम्हारे भैया के दूध मे नींद की गोलियाँ मिला देंगी फिर चाहे तूँ सुबह तक उनका लंड चूसती रहना नही भाभी मुझे डर लगता है कहीं भैया जाग गये तो मे उन्हे मुँह दिखाने के काबिल भी नही रहूंगी सुषमा ने काजल को नींद की गोली देते हुए कहा की इसे ले लो और सुबह इसके असर के बारे मे बताना में खिड़की से हट कर बेडरूम मे चला गया रात को मे बीवी की प्लान से रोमांचित था लेकिन उसको जाहिर नही करना चाहता था मुझे हैरानी मे डालते हुए सुषमा बोली आप बुरा ना मानना घर की इज़्ज़त का सवाल है काजल ने मुझे लंड चूसते हुए देख लिया है वो कह रही थी की उसका भी लंड चूसने का दिल करता है मुझे डर है की कहीं अपनी इच्छा पूरी करने के लिए वो किसी बाहर के लड़के के चक्कर मे ना पड़ जाए और हमारी इज़्ज़त खाक मे मिल जाये.
मेने कहा की तुम काजल को समझाओ की शादी से पहले वो कोई ऐसा काम ना करे सुषमा बोली आप क्या जानो की एक बार लंड देखने के बाद कुँवारी लड़की पर क्या गुजरती है उसने तो आपका खड़ा लंड देखा है वो भी एक औरत द्वारा चूसते हुए उसकी लंड मे दिलचस्पी को देखते हुए मे यकीन से कह सकती हूँ की वो शादी तक इंतज़ार नही करेगी अब इस घर की इज़्ज़त आप के हाथ मे है मेने कहा की मेरे हाथ मे कैसे मे तो उसका भाई हूँ काजल आपका लंड चूसने को तैयार है बशर्ते आपको पता ना चले मेने आपको नींद की गोली देने की बात कही है लेकिन मे चाहती हूँ की आप खुद देखें की वो लंड के लिए कितनी बेचैन है.

मे उसको कह दूँगी की मेने आपको नींद की गोली दे दी है आपको बस इतना बहाना करना है की आप गहरी नींद मे हैं और कुछ भी हो जाये आपको अपनी आँख नही खोलनी हैं मेने कहा की उसको मजबूर ना करना अगर काजल खुद ही ये सब करे तो उसकी मर्ज़ी है उसके बाद सुषमा काजल के कमरे की तरफ निकल गयी और उसके आने से पहले मे काजल के हसीन ख्यालो मे खो कर सो गया अगली सुबह जब दोनो ननद भाभी किचन मे चाय नाश्ता तैयार कर रही थी तो मे खिड़की से कान लगा कर उनकी बातें सुनने लगा काजल कह रही थी भाभी रात को पता नही मेरी नाइटी और चड्डी किसने उतार दी गोली के असर से मुझे कुछ भी पता नही चला मेरी योनि पर भूरे से बाल थे वो भी साफ हैं सुषमा बोली ये सब मेने किया ताकि तुम्हे गोली के असर का पता चले तुम्हारे कपड़े उतारे हेयर रिमूवर से बाल साफ किये और गुलाब जल से धो कर कई देर तक तुम्हारी चूत चाटी लेकिन तुम्हे पता भी नही चला.

काजल बोल पड़ी भैया को यही वाली गोली रात को देना सुषमा बोली चिंता ना कर उन्हे भनक भी नहीं लगेगी की सोते हुए उनका लंड कोंन खाली कर गया मेरी बीवी का दिमाग़ कमाल का था उस रोज डिनर के बाद सुषमा ने काजल को दिखा कर मेरे दूध के ग्लास मे एक नींद की गोली डाली तो काजल ने यह कह कर दूसरी गोली डाल दी की भैया का शरीर बहुत तगड़ा है एक गोली का असर जल्दी ख़त्म ना हो जाये मे तुरंत बेडरूम मे जा कर लेट गया सुषमा काजल को कह रही थी जा खुद दूध का ग्लास ले जाओ थोड़ी बहुत उनकी उधार भी चुका देना काजल आई और टेबल पर ग्लास रखते हुए बोली भैया आपका दूध जल्दी पी लेना ज़्यादा गर्म नही है काजल जाने लगी तो मेने हंस कर कहा की मेरी उधार कब उतारोगी? भैया अभी तो भाभी है कल स्कूल से जल्दी आ जाउंगी फिर सारी उधार वसूल कर लेना फिर मेरे पास बैठ गयी और बोली की जल्दी कर लो भाभी के सामने मुझे शर्म आती है.

में काजल के होंठ चूसने लगा 2-3 मिनिट के बाद सुषमा ने पुकारा तो काजल चली गयी मेने दूध को फ्लश मे डाला और अंडरवेयर निकाल कर लूँगी बांधी और लेट गया कुछ देर के बाद सुषमा की आवाज़ सुनाई दी मे देख कर आती हूँ वो आई और खाली ग्लास देख कर खुद को कहने लगी की लगता है ये तो सचमुच दूध पी गये मे आँख खोल कर मुस्कुराया तो सुषमा समझ गयी और आहिस्ता से बोली की अभी काजल को लेकर आऊंगी आप सोने का नाटक जारी रखना थोड़ी देर मे सुषमा काजल को लेकर आई वो कह रही थी की तुमने गोली का ज़्यादा डोस दे दिया अब ये सुबह तक नही उठेंगे काजल बोली भाभी क्या नींद मे लंड खड़ा हो जायेगा मुझे खड़ा लंड चूस कर देखना है सुषमा बोली हाँ हाँ क्यों नही नींद मे तो मर्द डिसचार्ज अक्सर होते हैं तुम्हारे भैया का लंड तो मे रोज सुबह देखती हूँ की सोते हुए भी खड़ा रहता है चाहे मुझे सारी रात चोदा हो.

सुषमा ने एक बार मुझे हिला कर आवाज़ दी लेकिन मे एकदम सीधे पड़ा रहा अब काजल को पूरा यकीन हो गया तो वो बोली भाभी आप दूसरे कमरे मे चली जाये मे अपने आप कर लूगी आपके सामने मुझे शर्म आती है सुषमा बाहर चली गयी तो काजल ने आहिस्ता से मेरी लूँगी को लंड पर से हटाया और अपने नाज़ुक हाथ मे लंड को पकड़ लिया लंड मे सरसराहट हुई तो पहले तो काजल ने डर कर लंड छोड़ दिया की शायद मे जाग गया लेकिन फिर मूठी में पकड़ लिया मे आँख के कोने से देख रहा था की सुषमा खिड़की से ये नज़ारा देख रही थी काजल ने थोड़ा सा ही सहलाया था की लंड पूरी तरह फंनफना कर खड़ा हो गया.

काजल ने खुश हो कर लंड को किस किया और फिर सूपडे को गालों से सहलाने लगी जब लंड पर ज़्यादा प्यार आया तो उसने सूपडे को मुँह मे ले लिया उसे पूरा मुँह खोलना पड़ा था अब वो सूपडे को जीभ और तालू के बीच मे दबा कर लोलीपोप की तरह चूस रही थी सुषमा को देख कर वो जल्दी सीख गयी थी कभी वो लंड को चारों तरफ से चाटती तो कभी पूरा गले मे उतारने की कोशिश करती मेरे लंड से मर्द पानी का रिसना शुरू हुआ तो पहले वो लंड को मुँह से निकाल कर सूंघने लगी और फिर मर्दाना स्मेल से वशीभूत हो कर वीर्य को चाट कर देखा उसने लंड को फिर मुँह मे ले लिया शायद लंड रस का स्वाद उसे भा गया था काजल आँख बंद करके लंड चूसे जा रही थी मे जन्नत मे था सुषमा चुपके से अंदर आ गई और लंड चूसने का नज़ारा देखने लगी उसने मेरी तरफ देखा तो मेने आँख मार दी सुषमा ने मुझे आँख बंद रखने का इशारा किया.

थोड़ी देर मे काजल को सुषमा की मोजूदगी का एहसास हुआ तो उसने प्लॉप की आवाज़ के साथ लंड को मुँह से बाहर निकाला और बोली प्लीज़ भाभी बाहर जाओ ना मुझे शर्म आ रही है सुषमा बोली ननद जी मे तुम्हे ये बताने आई हूँ की चरम पर पहुँचने के बाद लंड से काफ़ी माल निकलता है उसे बेड पर या इनकी बॉडी पर ना गिरने देना ताकि सुबह इन्हे शक ना हो तुम सारा पी जाना लंड का पानी कुँवारी लड़की के लिए बहुत फायदे वाला होता है लंड रस के क्या क्या फायदे हैं भाभी? लंड रस से बदन मे निखार आ जाता है चूतड़ भारी हो जाते हैं और बूब्स सुडोल हो जाते हैं शादी के बाद इसीलिये तो लड़कियों का बदन सुन्दर और हरा भरा हो जाता है.

ये बात सुन कर काजल ने लंड को फिर से चूसना शुरू कर दिया जब मेरा शरीर अकड़ने लगा तो सुषमा बोली पानी निकलने वाला है काजल ने लंड को और ज़ोर से चूसना शुरू कर दिया मेरे लंड से पिचकारियाँ छुटने लगी तो उसके मुँह की पकड़ और मजबूत हो गयी वो लंड की आखरी बूँद तक निचोड़ निचोड़ कर पी रही थी लंड ढीला पड़ा तो काजल बोली भाभी दिल करता है की इसे मुँह मे लेकर ही सो जाऊं सुषमा बोली की छोड़ो अब बाकी कसर फिर कभी पूरी कर लेना काजल अपने रूम मे सोने चली गयी तो सुषमा लाइट बंद करके मुझसे लिपट कर मेरे कान मे बोली कैसा लगा कुँवारी लड़की से लंड चुसा कर? मे बोला की थैंक्स डार्लिंग काजल को मत बताना की मे जाग रहा था सुषमा बोली कभी कुँवारी लड़की की चूत चाटी है? मेने कहा की नही वो बोली चाटोगे? मेने पूछा किसकी? सुषमा बोली मेरी ननद की और किसकी मे बोला काजल मुझसे ऐसा कभी नही करवायेगी.
ये सब मुझ पर छोड़ दो आप सिर्फ़ ये बताये की कुँवारी चूत चाटने का दिल करता है या नही? किसका दिल नही करेगा लेकिन ना तो काजल मानेगी और ना ही मे उससे यह करने के लिए कह सकता हूँ मे ही कोई रास्ता निकालती हूँ की आपको कुछ ना कहना पड़े अगली सुबह मे फिर ननद भाभी की बातें सुन रहा था काजल पूछ रही थी भाभी जैसे लड़कियों को लंड चूसने मे मज़ा आता है तो मर्द को ओरत का कोन सा अंग चूसने मे मज़ा आता है? सुषमा : कुछ आदमी चूचीयाँ चूसना पसंद करते हैं तो कुछ चूत चाटना काजल : क्या कहा मर्द चूत भी चाटते हैं? हाय भाभी! कल्पना से ही मेरी चूत मे तो पानी आ गया है क्या भैया भी चाटते हैं आपकी? सुषमा : तेरे भैया रोज एक बार मुझे जीभ से ज़रूर झाड़ते हैं कुँवारी लड़की के लिए तो ये तरीका वरदान है ना सील टूटने का ख़तरा और स्वाद उतना ही तुम एक बार चटवा कर देखो रोज परोसने को दिल करेगा बोल चटवायेगी?
काजल : भाभी दिल तो करता है की कोई मर्द मेरी चूत को चाट ले प्यार से चाटे मगर आपके अलावा मे दिल की बात किस से कहूँ? उस रात आपने मेरी चाटी थी मुझे तो पता भी नही चला सुषमा : अरी नींद की गोली के असर से तुम्हे पता नही चला जब तुम्हारे भैया जागती हुई की चूत चाटेंगे तो तुम्हे तीनो लोक नज़र आयेगे काजल : क्या! भैया से? ना बाबा ना मे तो शर्म से ही मर ही जाउंगी और भैया भी इसके लिए कभी राज़ी नही होंगे सुषमा : वैसे एक राज की बात बताती हूँ तुम्हारे भैया तुम्हारी सोती हुई चूत चाटने को तैयार हैं वो कह रहे थे की काजल को पता ना चले तो उसकी चूत सारी रात चाट सकता हूँ काजल : हाय राम! भैया को मे इतनी प्यारी लगती हूँ लेकिन सोते हुए मुझे कैसे पता चलेगा की इसमे कैसा स्वाद आता है?

सुषमा : सुनो मेरे पास एक आइडिया है मे तुम्हारे भैया को दिखा कर तुम्हारे दूध मे नींद की गोली डालूंगी तुम उसे आँख बचा कर फ्लश मे डाल देना और फिर गहरी नींद मे सोने का नाटक करना फिर देखना अपने भैया का कमाल! काजल : देखो भाभी भैया को कभी नहीं बताना की मे चूत चटवाते हुए जाग रही थी जब मे झड़ने लगूँ तो मुझे होंठों पर किस करना ताकि उन्हे पता ना लगे की किसकी सिसकारियाँ निकल रही हैं मेने दोनो की सारी प्लान सुन ली अगर काजल खुद अपनी चूत चटवाने को राज़ी है तो मुझे क्या एतराज हो सकता था शाम को सुषमा ने मुझसे कहा की आपका काम बन जायेगा काजल चूत चटवाने को तैयार है बशर्ते तुम्हे ये पता ना लगे की वो जागते हुए अपने होंश मे चूत चटवा रही है वो कहती है की भैया मेरी सोती हुई चूत चाटे तो मुझे कोई एतराज नही है.

बस भैया को पता ना चले की मे जानबूझ कर अपनी चूत चटवा रही हूँ दरअसल वो आपसे शरमाती है की भैया क्या सोचेंगे मेने कहा की मुझे तो यकीन ही नही हो रहा की काजल मान गयी है मे उसे ज़रा भी एहसास नही होने दूँगा की मुझे पता है की वो चूत चटवाते हुए जाग रही है डिनर के बाद सुषमा ने मुझे किचन मे बुलाया और साथ ही काजल को भी आँख से इशारा किया सुषमा ने मुझे किचन मे बुला कर दूध के ग्लास मे नींद की गोली डाली मुझे पता था की काजल भी खिड़की से छुप कर ये सब देख रही थी सुषमा ने मुझे दूध का ग्लास देते हुए कहा की जाओ आप खुद ही ये काजल को दे दो में जानबुझ कर दूध ले जाने मे देरी कर रहा था जिससे काजल को अपने रूम मे जाने का मौका मिले मे काजल के रूम मे गया तो देखा उसने कोई किताब पढ़ने के लिए उठा रखी है.

मेने कहा की तुम्हारी भाभी किचन मे काम कर रही हैं तुम ये दूध पी लो काजल : रख दो भैया मे पी लूंगी मे बाहर चला गया कुछ देर के बाद सुषमा काजल के पास गयी तो उसने दूध को फ्लश मे डाला और उसे फिर तसल्ली दे कर आई की तुम्हारे भैया ने अब तो खुद तुम्हे नींद की गोली मिला हुआ दूध दिया है तुम स्कर्ट के नीचे से चड्डी उतार लो और बस नींद मे होने का नाटक करना मे अभी तुम्हारे भैया को बोल कर आती हूँ सुषमा मेरे पास आ कर हिदायत देने लगी बहुत प्यार से आधी खीली कली का रस आराम से चूसना उसने नींद की गोली नही ली है लेकिन आप उसे सोई हुई समझ कर चूत चाटना ताकि वो आपकी निगाहों मे मासूम और भोली बनी रहे जैसे की उसे पता ही नही की उसके साथ क्या हो रहा है सुषमा वापस गयी और आधे घंटे के बाद काजल के कमरे से ही मुझे आवाज़ दी आ जाओ काजल गोली के असर से सो चुकी है.

loading...
loading...

मे नज़दीक पहुँचा तो सुषमा उसे कह रही थी अब आँख बंद कर लो तुम्हारे भैया आ रहे हैं मेरे अंदर जाते ही सुषमा बोली संभालो अपनी नई रानी को अब ये नही जागने वाली सुबह तक यह कह कर सुषमा बाहर निकल गयी आह! काजल की कुँवारी ताज़ा जवानी मेरे सामने लेटी हुई थी मेने आहिस्ता आहिस्ता होंठो, गालों और गर्दन को चूमा, फिर स्कर्ट को चूतडो के नीचे से खिसका कर चूचियों तक उपर चढ़ा दिया नीचे ना ब्रा ना पेंटी, गहरी नाभि और गड्राई जांघों के बीच फुली हुई फ्रेश चूत पहले मेने समोसे जैसी चूचीयाँ मुँह मे भर-भर कर चूसी तो काजल की टाँगों मे कुछ हलचल हुई.
मेने जीभ को नाभि मे डाल कर हिलाया तो उसकी जांघे चौड़ी होती गयी हालाँकि उसने ऐसा शो करके जांघों के बीच जगह बनाई जैसे नींद मे अपने आप हो गयी हों मेने उसके भारी चूतडो के नीचे एक तकिया लगाया और टाँगों के बीच आ कर गर्म होंठ चूत पर रख दिए उतेज्ना से काजल ने चेहरा एक साइड मे कर लिया मे उसके चूत के लहसुन को जीभ से गिटार के तार की तरह छेदने लगा फिर लहसुन को होंठों के बीच दबा कर चूसने लगा क्लिट तन कर सख्त हो गया मुझे ऐसा लगा की काजल की हल्की सी सिसकारी निकल गयी मेने आँखे उपर उठा कर देखा काजल के होंठ ज़रा से खुल कर थरथरा रहे थे अब मेने दोनो जांघों को उपर उठा कर पीछे की तरफ मोड़ दिया जिससे उसकी डबल रोटी जेसी चूत ज़्यादा उभर कर सामने आ गई फिर मे पूरी जीभ चूत पर रख कर पान के पत्ते की तरह चाटने लगा यानी गांड से लेकर चूत के टिंट तक चाटने से काजल की जांघे चौड़ी हो गयी.

चूत से लगातार काम रस मेरी जीभ को मेहनत के फल के रूप मे मिल रहा था काजल को अभी भी यकीन था की मे उसे सोई हुई समझ कर उसका काम रस पी रहा हूँ अब मे जीभ को चूत के द्वार मे डाल कर लप-लप करके चाटने लगा तो काजल का बदन अकड़ने लगा और चूतड़ उचकने लगे बेमिसाल स्वाद के असर से बेचारी भूल गयी की उसने सोने का नाटक भी किया हुआ है मे दोनो हाथों को चूतडो के नीचे लगा कर ज़ोर ज़ोर से चूत से रिस रहे कचे खट्टे नमकीन रस को चाटने लगा कुछ ही देर के बाद काजल की मूठियाँ भींच गयी और एक झटके के साथ चूत मेरे मुँह से चिपक गयी चरम सुख से चूत खुल-बंद हो रही थी और मे लगातार निकल रहे रस को चाटता रहा जब तक की काजल पूरी तरह निढाल ना हो गयी उसके बाद मेने अपने बेडरूम मे जा कर सुषमा को शुक्रिया कहा और काजल की कल्पना करके उसकी जबरदस्त चुदाई की और इसके आगे का भाग अगली स्टोरी में बताऊंगा केसे मेने काजल को चोदा।..

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


jab apni hi chachi ke chut ko raat bhar chusa sex ghtnasexy story com hindiमाँ दूध पिया मौसी को सेक्स कहानी 2018x storyhindi sexy stoeryचुड़ैल को किसने देखा और सेक्स कियाhindi sex khaneyamausi.ki.chudai.thanthi.msex kahaniya in hindi fontहिन्दी सेकस ईटोरीsaxi estori मुझे लंड दिखाकर मुठ मारता हैसेक्स kahaniyaसितंबर 2018 चुत चुदाई कि नयी कहानियाँkoching krati mammy sexy ke bare mejaipur wali bhabhi ne sub kuch sikayaहिन्दी सेकस ईटोरीRavi ne apni sauteli maa se liya badla liya porn storySekx story is new newstory of buw rat bar chudiजांघों की मालिश चुत चुदाईsexy syoryट्रेन+रात+कंबल+गोदsexy story com in hindimami ne muth mariBlause kae ander photo xxxcar aur mummy all kamukta sex storiesसेकस कि कहानी .कमरिस्तो की चोदाई मे पीसाब पी के चोदने कि कहानीमेरे बूब्स देखो ना भाई कामुकता कथाall hindi sexy storyHindi sex Kahanichodai vidio sex cam उम्र को choda.comकविता की चूत चुदाई स्टोरी कॉमखूब लंड डलवाती हैhinde sax khaniमामा ने चुत मे उगलि दीsexy hindi story readhindi sexi kahanisex store hendisasur our jawan bahuno ka maaza hindi sex storisex new story in hindisex टीचर का मीठा दूध स्टोरीसोती बहन की सलवार खोली बीडीओ को//radiozachet.ru/maa-dadi-aur-behan-1/ससुर जी ने आराम से चुदाई कीमेरे बूब्स देखो ना भाई कामुकता कथाsexy khane handi me.comलडकि के कपडे ऊतारे फिर सुदी कर के चुदाईsamdhan ki mast moti gaand mari hindi font meinफिर चुदायाchuddakad pariwar sex kahani forum hindi fontमामी की पेंटी में मुठ मारा कहानियाँछोडन माँ सेक्सी स्टोरी हिंदी कॉमसेक्स कहानियाँparavarik sex kahaniEk ldki ki gurp ke saat mst bali cudaii ki khaniya kpdo ke utarne se lekrउसके हर धक्के के साथ मेरी गांडsexy video massage karte huye kab Uske mein daal de usse Pata Na ChaleNEW SEXY CUDAY KAHANIYA HINDI MEsexy sex kahani.commami ke sath sex kahaniमामि को नहाते देखा भाभि बुआsexy sex hindi stoorihindi sex kahani hindisexi storijमम्मी को पेला बेटा ने साथ मे दीदी को सेक्सी कहानीHindi story nangi nahati aurat ghar me dekhiMummy aur behan ko main swimming me choda khani xossip readchod apni didi behanchodMaa ki gand ka udghatan kiyahot dadi maa ki sex kahani//radiozachet.ru/maa-ne-apni-choot-mere-boss-ko-di/sex khani audioतीन बछो की माँ को चोदाsexy kahani newaunty saree m bhut achi lagti h sexy storyट्रैन में मालिशhindi sexy storyiदीदी सहेली चुदाई कहानीहम मोटर साइकिल से जा रहे थे रास्ते में चूत मार लीkamukta sexHindi sexy kahani लडकि के कपडे ऊतारे फिर सुदी कर के चुदाईचुदाई का दर्दगर्लफ्रेंड ने कंडोम पहनायाhindi sexi storieseal ka udghatan hindi sex kahaniyasexy khaniya in hindi